यदि आपको फोटो लेने का शौक है और आप बहुत अच्छे फोटोग्राफर हैं, तो आप स्टॉक फोटोग्राफर बनकर अपने फोटोज को ShutterStock या iStockPhoto जैसी स्टॉक फोटो कंपनी को बेचकर ऑनलाइन अतिरिक्त पैसा कमा सकते हैं। जब भी कोई आपके द्वारा सबमिट किया गया फोटो का लाइसेंस देगा, तो आपको हर बार रॉयल्टी मिलेगी। वास्तव में सफल होने के लिए, अपने पोर्टफोलियो का प्रदर्शन करने में सक्षम होने के लिए अपनी खुद की फोटोग्राफी वेबसाइट बनाएं और उच्च-भुगतान वाले निजी कॉर्पोरेट काम करना शुरू करें।
लेकिन आज का परिदृश्य अब पहले की तरह नहीं रहा। यह पूरी तरह से बदल गया है। स्कूल जा रहे बच्चों के साथ, छेड़छाड़ और बलात्कार जैसे मामले और अन्य स्कूल संबंधी अपराधों के कई आत्मघाती मामले स्पष्ट रूप से दर्शा रहे हैं कि बहुत कुछ बदल चुका है। अगर हम समाचार पत्रों की हेडलाइंसों को देखते हैं तो हमें इस प्रकार की कई सुर्खियां दिखाई पड़ती हैं। चेन्नई में एक 10 वीं कक्षा की छात्रा ने शिक्षक द्वारा पिटाई और निर्वस्त्र होने से क्षुब्ध होकर आत्महत्या कर ली थी। दिल्ली में एक शिक्षक द्वारा एक छात्र पर डस्टर फेंकने के कारण उस छात्र ने अपनी आँखे खो दीं थीं और हाल यह हो गया है कि छात्र भी अपने शिक्षकों को नहीं छोड़ते। अपने शिक्षकों को मारने वाले छात्रों की खबरों को भी पूरे भारत में सुना गया है। कुछ अमीर छात्र बहुत ही अक्खड़ होते हैं और वे पैसों के घमंड़ में आकर अपने शिक्षकों का सम्मान भी नहीं करते हैं तथा अपने गुरू की बात पर ध्यान भी नहीं देते, कि वे क्या कह रहे हैं।
इन रिकॉर्ड्स में मेडिकल हिस्ट्री व फिजिकल रिपोर्ट, क्लिनिक रिपोर्ट, ऑफिस नोट्स, ऑपरेटिव नोट्स, कंसल्टेशन नोट्स, डिस्चार्ज समरी, मनोचिकित्सक आकलन, पैथोलॉजी-लैब रिपोर्ट व एक्सरे रिपोर्ट(Medical History, Physical Report, Clinical Report, Office Notes, Operative Notes, Consultation Notes, Discharge Summary, Psychiatrist Assessment, Pathological and Lab Reports and X-Ray Reports) इत्यादि शामिल हैं।
भारत में बहुत लोग बेरोजगार है जिनमे बहुत तो ऐसे है जिन्हें अच्छी पढाई करने के बावजूद भी जॉब नहीं मिल पाती है लेकिन उन लोगो के लिए इन्टरनेट एक बेहतरीन जगह है जहां पैसे कमाने की कोई लिमिट नहीं है अगर आपको इन्टरनेट का थोड़ा बहुत नोलेज है तो भी आप इन्टरनेट से पैसे कमा सकते हैं. यहाँ पर सबसे बड़ी बात ये है की किसी काम के लिए आपसे आपकी कोई पढाई या डिग्री का प्रूफ नहीं माँगा जाता है.
हार्ड वर्क और स्मार्ट वर्क दोनों एक साथ साइट पर अगर आप करते हो तो आसानी से गूगल आपकी साइट ऊपर ले जाएगा | जैसे जैसे आपकी साइट ऊपर जाएगी वैसे-वैसे आपके साईट पर विजिटर्स की संख्या बढ़ेगी, आपके साइट पर जितने ज्यादा विजिटर्स होंगे उतने ज्यादा विजिटर्स आपके साइट पर मौजूद गूगल ऐडसेंस की ऐड पर क्लिक करेंगे जिससे ऑटोमेटिक आपको पैसा मिलेगा | गूगल ऐडसेंस का प्रोग्राम लेने के लिए गूगल ऐडसेंस का अकाउंट होना जरूरी होता है जिससे ज्यादा से ज्यादा पोस्ट आपके साइट पर आएगी और आप डॉलर में पैसा कमाने लग जाओगे |
लेकिन आज का परिदृश्य अब पहले की तरह नहीं रहा। यह पूरी तरह से बदल गया है। स्कूल जा रहे बच्चों के साथ, छेड़छाड़ और बलात्कार जैसे मामले और अन्य स्कूल संबंधी अपराधों के कई आत्मघाती मामले स्पष्ट रूप से दर्शा रहे हैं कि बहुत कुछ बदल चुका है। अगर हम समाचार पत्रों की हेडलाइंसों को देखते हैं तो हमें इस प्रकार की कई सुर्खियां दिखाई पड़ती हैं। चेन्नई में एक 10 वीं कक्षा की छात्रा ने शिक्षक द्वारा पिटाई और निर्वस्त्र होने से क्षुब्ध होकर आत्महत्या कर ली थी। दिल्ली में एक शिक्षक द्वारा एक छात्र पर डस्टर फेंकने के कारण उस छात्र ने अपनी आँखे खो दीं थीं और हाल यह हो गया है कि छात्र भी अपने शिक्षकों को नहीं छोड़ते। अपने शिक्षकों को मारने वाले छात्रों की खबरों को भी पूरे भारत में सुना गया है। कुछ अमीर छात्र बहुत ही अक्खड़ होते हैं और वे पैसों के घमंड़ में आकर अपने शिक्षकों का सम्मान भी नहीं करते हैं तथा अपने गुरू की बात पर ध्यान भी नहीं देते, कि वे क्या कह रहे हैं।
×