तो चलिए हमारे इस आर्टिकल के जरिये हम आपको घर भैते पैसे कमाने के बारे में विस्तार से बताएंगे| क्या आपको पता हैं की घर बैठे कमाई करना कोई मुश्किल काम नहीं हैं| आज के समय में सब काम ऑनलाइन हो गया हैं| डिजिटल इंडिया की वजह से आज हर काम बहुत आसान हो गया हैं| बहुत से ऐसे ऑनलाइन तकनीक हैं जिसकी वजह से आप घर पर भैते ही ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं| इसके लिए आपको कोई अलग स्किल आने की जरुरत नहीं हैं| अगर आपको कंप्यूटर ऑपरेट करना आता हैं और आप कंप्यूटर पेकाम केर सकते हैं तो इसकी मदत से आप ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं| बहुत सी ऐसी कपोनी हैं जो ऑनलाइन अपना काम दुसरो से करवाती है| इसे फ्रीलान्स कहते हैं| आप चाहे तो ऑनलाइन अपना किसी चीज़ पर राइटिंग करके वो कंटेंट ऑनलाइन किसी वेबसाइट को बेच सकते हैं इससे वो वेबसीटे इसके बदले आपको पैसे देती हैं|
सबसे पहले हमें, YouTube पर channel बनाना पड़ेगा. और फिर उसमे खुदके विडियो upload करने पड़ेंगे. याद रहे, वो विडियो तुम्हारे ही होने चाहिये. नहीं तो हमें copyright strike मिलेगा. और फिर हमें हमारे videos को monetize करके adsense से connect करना पड़ेगा. जिस्से हमारे विडियो पर विज्ञापन नजर आएगा. और जब भी कोई व्यक्ति इंसान, विडियो देखते समय ads पर click करेगा. हमे पैसे मिलेंगे.
भारत में बहुत लोग बेरोजगार है जिनमे बहुत तो ऐसे है जिन्हें अच्छी पढाई करने के बावजूद भी जॉब नहीं मिल पाती है लेकिन उन लोगो के लिए इन्टरनेट एक बेहतरीन जगह है जहां पैसे कमाने की कोई लिमिट नहीं है अगर आपको इन्टरनेट का थोड़ा बहुत नोलेज है तो भी आप इन्टरनेट से पैसे कमा सकते हैं. यहाँ पर सबसे बड़ी बात ये है की किसी काम के लिए आपसे आपकी कोई पढाई या डिग्री का प्रूफ नहीं माँगा जाता है.
कुछ माता-पिता अपने बच्चों पर बहुत अधिक ध्यान देते हैं और हमेशा यदि वे  कुछ गलत करें तो उन्हें रोकते हैं। लेकिन कुछ माता-पिता अपने बच्चों को उन सम्मानों को नहीं सिखाते हैं जो उन्हें अपने शिक्षकों को देना चाहिए। कुछ माता-पिता अपने बच्चों को महंगे फोन और अन्य ऐसे गैजेट (यंत्र) भी दे देते हैं जिससे वे अकड़ कर चलते हैं। इसलिए, बहुत से बच्चे अब शिक्षा के लिए, बल्कि केवल पैसे की धौंस दिखाने के लिए स्कूल जा रहे हैं। यही कारण है कि स्कूल जाने वाले बच्चों के साथ एमएमएस जैसी कई अनैतिक घटनाएं हो रही हैं। इसके अतिरिक्त बाहर काम करने वाले माता-पिता के पास अपने बच्चों के लिए समय कम होता है। वे इससे चिंतित रहते हैं कि उनके बच्चे क्या कर रहे हैं और किसके साथ वे अपना समय बिता रहे हैं। माता-पिता अपने समय को छोड़कर अपने बच्चों को सब कुछ देने का प्रयास करते हैं। लेकिन माता-पिता को माहौल के समय के महत्व का एहसास होना चाहिए।
ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए Blogging se paise kaise kamaye? या फिर ब्लॉग से पैसे कैसे कमाते हैं Blog se kaise paise kamaye. तो इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की आप ब्लॉगिंग से ऑनलाइन कैसे पैसे कमा सकते हो? सबसे पहले ब्लॉगर डॉट कॉम www.blogger.com पर जाए. अपनी ज़िमेल से लोजीन करें. फिर क्रियेट ब्लॉग create blog पर क्लिक करें. अपनी पसंद का डोमेन नाम लिखें और continue करें. फिर अपनी पसंद की टेंपलेट चूज़ करें और फिर सेट्टिंग में जाकर कस्टमाइज़ करें. फिर ब्लॉग पोस्ट (Add post) करें. लगातार ब्लॉग पोस्ट करने से आपके ब्लॉग का ट्रॅफिक भी बढ़ेगा. जब ब्लॉग पूरी तरह कस्टमाइज़ हो जाए और बहुत सारी ब्लॉग पोस्ट हो जाए और अच्छा ट्रॅफिक आने लगे तो आप गूगल एड्सेंस अप्लाइ (Apply Google Adsense) कर सकते हैं. अगर गूगल एड्सेंस अप्रूव्ड (Google Adsense Approved) हो जाए तो फिर आप अपनी ब्लॉग को मोनेटाइज़ (Monetize blog) यानी ब्लॉग में एड लगा सकते हैं. हर बार एड क्लिक होने पर आपको गूगल से पैसे मिलेंगे.

Media.net विज्ञापन दिखाने के लिए आपको उनकी साइट पर जाकर आवेदन करना होगा। Media.net company आवेदन को रिव्यू करती है। आपके लिए यह जानना बहुत ज़रूरी है कि मीडिया नेट सभी भाषाओं और देशों के ट्रैफिक के लिए काम नहीं करता है। यह प्रमुख रूप से अंग्रेजी और अमेरिका, कनाडा और यूरोप से ट्रैफ़िक पाने वाले ब्लॉग को चुनना पसंद करते हैं। लेकिन हिंदी साइट पर विज्ञापन भी मिल सकता है। मुझे एक हिंदी साइट के लिए विज्ञापन मिल चुका है। लेकिन मेरी पहली साइट जो एप्रूव हुई थी वो एक अंग्रेजी साइट थी फिर हिंदी साइट जिस पर अमेरिका से ट्रैफिक अधिक था उस पर भी विज्ञापन दिखाने की अनुमति मिल गई थी। जिससे अच्छी कमाई होनी शुरु हुई।
मैंने आपको पहले से ही इसके बारे में थोडा knowledge दे दिया है, अब details में जाते हैं. हर कोई seller अपने product को online sell करने में success हासिल कर नहिं पाता. इसीलिए वो affiliate marketing के जरिये अपना selling करता है. मान लीजिये आपका एक कपडे का दुकान है, पर आप उसके अच्छा sell नहिं कर पा रहें. तो आप किसीको बोलेंगे के, अगर वो आपके कपडे sell करने में मदद करता है तो आप उसे हर sell में इतनी percent का commission देंगे. येही होता है affiliate marketing.
यूट्यूब पर बहुत सारे लोग दूसरों का मनोरंजन होने के लिए विभिन्न वीडियोस बनाते हैं और यूट्यूब पर अपलोड करते हैं | कई बार बहुत सारे वीडियोस ऐसे होते हैं जो बेहतरीन होने के कारण ट्रेंडिंग पर आ जाते हैं | जो वीडियो ट्रेंडिंग पर होता है उस वीडियो के कारण उस चैनल का मालिक आसानी से लाखों रुपए कमा लेता है, यूट्यूब पर काम करते समय आपका मनोरंजन होने के साथ-साथ आपको शोहरत भी मिलती है |
कड़ी मेहनत और समर्पण के लिए, श्यामा देवी को केवीके, ढकरानी द्वारा राज्यस्तरीय महिला सम्मान पुरुस्कार के लिए नामांकित किया गया, जिसे 5 अक्टूबर, 2018 को जी. बी. पंत कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, पंतनगर के कुलपति द्वारा उसे देकर सम्मानित किया गया। शानदार काम को प्रदर्शित करने के लिए, समूह को श्रीमती मनीषा पंवार, निदेशक, उत्तराखंड राज्य आजीविका मिशन द्वारा उत्तराखंड हिमान्या सरस मेला में भी सम्मानित किया गया था। इस सफलता के बाद, महिला जागृति समूह ने 14 समान समूहों के साथ ब्लॉक मिशन प्रभाण्डक की मदद से 23 जून, 2018 को जय माता दी, ग्राम संगठन की स्थापना की।
अगर आपके पैसे है तो दस लोग आपके साथ रहेंगे अगर आपके पास पैसे नहीं है तो मुस्किल है कि कोई आपका साथ दे इसलिए आपके पास पैसा होना बहुत जरुरी है अब बात आती है पैसे कमाने की तो इन्टरनेट से online paise kaise kamaye. जिन लोगो की जॉब होती है तो उन्हें कोई पैसो की दिक्कत नहीं होती है लेकिन लोग पढ़े लिखे होने के बावजूद जॉब नहीं मिल पा रही है तो उनके लिए इन्टरनेट एक बेहतरीन ऑप्शन है जहां आपका कोई बॉस नहीं होता आप अपनी मर्जी के मालिक होते है.
यूट्यूब वर्ल्ड के नंबर वन आईटी कंपनी गूगल की सर्विस है, मतलब यूट्यूब गूगल का ही एक बड़ा हिस्सा है | कुछ लोगों को लगता है कि यूट्यूब पर काम करने से पैसा नहीं मिलता है, मतलब यूट्यूब फ्रॉड होता है | दोस्तों यूट्यूब का सारा कामकाज ऑनलाइन तरीके से होता है, यूट्यूब पर किसी भी जानकारी को अपलोड कर सकते हो | जिस इंसान को आपकी जानकारी पसंद आती है वह इंसान आपकी जानकारी लेता है |
!function(n,t){function r(e,n){return Object.prototype.hasOwnProperty.call(e,n)}function i(e){return void 0===e}if(n){var o={},s=n.TraceKit,a=[].slice,l="?";o.noConflict=function(){return n.TraceKit=s,o},o.wrap=function(e){function n(){try{return e.apply(this,arguments)}catch(e){throw o.report(e),e}}return n},o.report=function(){function e(e){l(),h.push(e)}function t(e){for(var n=h.length-1;n>=0;--n)h[n]===e&&h.splice(n,1)}function i(e,n){var t=null;if(!n||o.collectWindowErrors){for(var i in h)if(r(h,i))try{h[i].apply(null,[e].concat(a.call(arguments,2)))}catch(e){t=e}if(t)throw t}}function s(e,n,t,r,s){var a=null;if(w)o.computeStackTrace.augmentStackTraceWithInitialElement(w,n,t,e),u();else if(s)a=o.computeStackTrace(s),i(a,!0);else{var l={url:n,line:t,column:r};l.func=o.computeStackTrace.guessFunctionName(l.url,l.line),l.context=o.computeStackTrace.gatherContext(l.url,l.line),a={mode:"onerror",message:e,stack:[l]},i(a,!0)}return!!f&&f.apply(this,arguments)}function l(){!0!==d&&(f=n.onerror,n.onerror=s,d=!0)}function u(){var e=w,n=p;p=null,w=null,m=null,i.apply(null,[e,!1].concat(n))}function c(e){if(w){if(m===e)return;u()}var t=o.computeStackTrace(e);throw w=t,m=e,p=a.call(arguments,1),n.setTimeout(function(){m===e&&u()},t.incomplete?2e3:0),e}var f,d,h=[],p=null,m=null,w=null;return c.subscribe=e,c.unsubscribe=t,c}(),o.computeStackTrace=function(){function e(e){if(!o.remoteFetching)return"";try{var t=function(){try{return new n.XMLHttpRequest}catch(e){return new n.ActiveXObject("Microsoft.XMLHTTP")}},r=t();return r.open("GET",e,!1),r.send(""),r.responseText}catch(e){return""}}function t(t){if("string"!=typeof t)return[];if(!r(j,t)){var i="",o="";try{o=n.document.domain}catch(e){}var s=/(.*)\:\/\/([^:\/]+)([:\d]*)\/{0,1}([\s\S]*)/.exec(t);s&&s[2]===o&&(i=e(t)),j[t]=i?i.split("\n"):[]}return j[t]}function s(e,n){var r,o=/function ([^(]*)\(([^)]*)\)/,s=/['"]?([0-9A-Za-z$_]+)['"]?\s*[:=]\s*(function|eval|new Function)/,a="",u=10,c=t(e);if(!c.length)return l;for(var f=0;f0?s:null}function u(e){return e.replace(/[\-\[\]{}()*+?.,\\\^$|#]/g,"\\$&")}function c(e){return u(e).replace("<","(?:<|<)").replace(">","(?:>|>)").replace("&","(?:&|&)").replace('"','(?:"|")').replace(/\s+/g,"\\s+")}function f(e,n){for(var r,i,o=0,s=n.length;or&&(i=s.exec(o[r]))?i.index:null}function h(e){if(!i(n&&n.document)){for(var t,r,o,s,a=[n.location.href],l=n.document.getElementsByTagName("script"),d=""+e,h=/^function(?:\s+([\w$]+))?\s*\(([\w\s,]*)\)\s*\{\s*(\S[\s\S]*\S)\s*\}\s*$/,p=/^function on([\w$]+)\s*\(event\)\s*\{\s*(\S[\s\S]*\S)\s*\}\s*$/,m=0;m]+)>|([^\)]+))\((.*)\))? in (.*):\s*$/i,o=n.split("\n"),l=[],u=0;u=0&&(g.line=v+x.substring(0,j).split("\n").length)}}}else if(o=d.exec(i[y])){var _=n.location.href.replace(/#.*$/,""),T=new RegExp(c(i[y+1])),E=f(T,[_]);g={url:_,func:"",args:[],line:E?E.line:o[1],column:null}}if(g){g.func||(g.func=s(g.url,g.line));var k=a(g.url,g.line),A=k?k[Math.floor(k.length/2)]:null;k&&A.replace(/^\s*/,"")===i[y+1].replace(/^\s*/,"")?g.context=k:g.context=[i[y+1]],h.push(g)}}return h.length?{mode:"multiline",name:e.name,message:i[0],stack:h}:null}function y(e,n,t,r){var i={url:n,line:t};if(i.url&&i.line){e.incomplete=!1,i.func||(i.func=s(i.url,i.line)),i.context||(i.context=a(i.url,i.line));var o=/ '([^']+)' /.exec(r);if(o&&(i.column=d(o[1],i.url,i.line)),e.stack.length>0&&e.stack[0].url===i.url){if(e.stack[0].line===i.line)return!1;if(!e.stack[0].line&&e.stack[0].func===i.func)return e.stack[0].line=i.line,e.stack[0].context=i.context,!1}return e.stack.unshift(i),e.partial=!0,!0}return e.incomplete=!0,!1}function g(e,n){for(var t,r,i,a=/function\s+([_$a-zA-Z\xA0-\uFFFF][_$a-zA-Z0-9\xA0-\uFFFF]*)?\s*\(/i,u=[],c={},f=!1,p=g.caller;p&&!f;p=p.caller)if(p!==v&&p!==o.report){if(r={url:null,func:l,args:[],line:null,column:null},p.name?r.func=p.name:(t=a.exec(p.toString()))&&(r.func=t[1]),"undefined"==typeof r.func)try{r.func=t.input.substring(0,t.input.indexOf("{"))}catch(e){}if(i=h(p)){r.url=i.url,r.line=i.line,r.func===l&&(r.func=s(r.url,r.line));var m=/ '([^']+)' /.exec(e.message||e.description);m&&(r.column=d(m[1],i.url,i.line))}c[""+p]?f=!0:c[""+p]=!0,u.push(r)}n&&u.splice(0,n);var w={mode:"callers",name:e.name,message:e.message,stack:u};return y(w,e.sourceURL||e.fileName,e.line||e.lineNumber,e.message||e.description),w}function v(e,n){var t=null;n=null==n?0:+n;try{if(t=m(e))return t}catch(e){if(x)throw e}try{if(t=p(e))return t}catch(e){if(x)throw e}try{if(t=w(e))return t}catch(e){if(x)throw e}try{if(t=g(e,n+1))return t}catch(e){if(x)throw e}return{mode:"failed"}}function b(e){e=1+(null==e?0:+e);try{throw new Error}catch(n){return v(n,e+1)}}var x=!1,j={};return v.augmentStackTraceWithInitialElement=y,v.guessFunctionName=s,v.gatherContext=a,v.ofCaller=b,v.getSource=t,v}(),o.extendToAsynchronousCallbacks=function(){var e=function(e){var t=n[e];n[e]=function(){var e=a.call(arguments),n=e[0];return"function"==typeof n&&(e[0]=o.wrap(n)),t.apply?t.apply(this,e):t(e[0],e[1])}};e("setTimeout"),e("setInterval")},o.remoteFetching||(o.remoteFetching=!0),o.collectWindowErrors||(o.collectWindowErrors=!0),(!o.linesOfContext||o.linesOfContext<1)&&(o.linesOfContext=11),void 0!==e&&e.exports&&n.module!==e?e.exports=o:"function"==typeof define&&define.amd?define("TraceKit",[],o):n.TraceKit=o}}("undefined"!=typeof window?window:global)},"./webpack-loaders/expose-loader/index.js?require!./shared/require-global.js":function(e,n,t){(function(n){e.exports=n.require=t("./shared/require-global.js")}).call(n,t("../../../lib/node_modules/webpack/buildin/global.js"))}});
इसलिए आज हम हमारे दोस्तों को ऑनलाइन इंटरनेट पर पैसा कैसे कमाते हैं के बारे में अच्छी-अच्छी जानकारी बताने वाले हैं | इस जानकारी के कारण शायद हर कोई जान सकेगा कि ऑनलाइन पैसा कैसे कमाया जाता है | हम देखते हैं कि बहुत सारे लोग इंटरनेट पर ऑनलाइन रिजल्ट देखते हैं, ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं, ऑनलाइन मोबाइल रिचार्ज करते हैं, या ऑनलाइन डिश रिचार्ज भी करते हैं |

कोई writing में अच्छा होता है तो कोई singing में. सबके पास अलग अलग कला होता है. हम दुशरो से वो चीज़ सीखते है जो हमे पता नहिं होता. वैसे ही आप अपनी talent के जरिये online आसानी से पैसे कमा पाएंगे, और ये कोई गलत बात भी नहिं है. तो आज के इस लेख में आप जानेंगे, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए. आगे बढ़ने से पहले में एक बात clear करना चाहता हूँ के, ये कोई झूट नहीं है; क्यूंकि में भी Internet के जरिये इतना पैसा कमा लेता हूँ, जिससे में आराम से अपनी जरूरतों को पूरा कर पाऊं.
समय के साथ-साथ, महिला समूहों ने आत्मविश्वास विकसित की और अधिक धन की बचत शुरू कर दी। स्व-सहायता समूहों को जूट बैग बनाने का प्रशिक्षण दिया गया और जो महिलाएँ सिलाई में निपुण थीं, उन्होंने स्वयं को जूट के बैग बनाने के लिए नियोजित किया। इस उद्यम में, केवीके ने उन्हें डिजाइनर बैग बनाने, ब्लॉक प्रिंटिंग आदि पर प्रशिक्षण प्रदान करके मूल्यवर्धन में मदद की। इस बीच, जिले में पॉलीथिन बैग पर प्रतिबंध के कारण, समूह ने खुद को गैर-बुना पर्यावरण के अनुकूल बैग के उत्पादन में प्रशिक्षित किया, जो उस समय उच्च मांग पर थे। इसलिए, इसने अन्य महिलाओं को भी समूह में शामिल होने और विभिन्न पहलुओं पर काम शुरू करने का रास्ता दिखाया।
यदि आपको फोटो लेने का शौक है और आप बहुत अच्छे फोटोग्राफर हैं, तो आप स्टॉक फोटोग्राफर बनकर अपने फोटोज को ShutterStock या iStockPhoto जैसी स्टॉक फोटो कंपनी को बेचकर ऑनलाइन अतिरिक्त पैसा कमा सकते हैं। जब भी कोई आपके द्वारा सबमिट किया गया फोटो का लाइसेंस देगा, तो आपको हर बार रॉयल्टी मिलेगी। वास्तव में सफल होने के लिए, अपने पोर्टफोलियो का प्रदर्शन करने में सक्षम होने के लिए अपनी खुद की फोटोग्राफी वेबसाइट बनाएं और उच्च-भुगतान वाले निजी कॉर्पोरेट काम करना शुरू करें।
इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएँगे की Internet se ghar baithe paise kamane ke tarike और कों सा तरीका आपके लिए सबसे अच्छा है?  वैसे ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीके (Online Paisa Kamane Ke tareeke) तो बहुत सारे हैं लेकिन बहुत से काम ऐसे भी हैं जिनमे ठगी के सिवाय कुछ नहीं मिलता. अगर आप गूगल सर्च करते हैं ऑनलाइन कमाने के लिए तो वहाँ आपको कई तरीके मी जाएँगे लेकिन उनमें बहुत से घोटाले वाले मिलेंगे. जैसे की केपचा भरने का काम, ऑनलाइन सेर्वे वाला काम या फिर ऑनलाइन टाइपिंग वाला काम. इनमें Maximum कामों में ठगी होती है. इसलिए सही साइट का चायं करना बहुत ज़रूरी है ऐसे काम करने के लिए.
ब्लॉगिंग – अगर आपको लिखने का शौक है और आप अपने विचार दुनिया के साथ शेयर करना चाहते है तो इसके लिए ब्लॉगिंग एक बेहतरीन बिजनेस ऑप्शन है, जिसमें एक ब्लॉग या वेबसाइट बनाकर उस पर आर्टिकल्स पब्लिश किये जाते हैं और अगर आपके ब्लॉग लोगों को प्रेरित करते हैं तो आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर विजिटर की संख्या बढ़ती जाएगी और ऐसे में ब्लॉग पर विज्ञापन प्रदर्शित करके पैसा कमाना काफी आसान हो जाता है।
इंटरनेट में आपको ऐसे बहुत सारे वेबसाइट मिल जाएंगे। जहां लोग अपना ऑनलाइन कोर्स लेते हैं। Udemy एक बेहतर प्लेटफॉर्म है आपके नॉलेज को शेयर करने का। यहां रजिस्टर करके आप अपने कंपलीट कोर्स वीडियो और डाक्यूमेंट्स के जरिए अपलोड कर सकते हैं। फिर आपको उस कोर्स की एक Price सेट करना पड़ेगा। जो कोई भी आप का कोर्स लेना चाहेगा वह Udemy के जरिए पेमेंट करके जब और जहां चाहे उसे पढ़ पाएंगे। Udemy कुछ कमीशन रख कर आपको आपका पेमेंट आपके बैंक में दे देता है। 🙂
आप ब्लॉगिंग (Blogging) से साथ साथ अफिलीयेट मार्केटिंग से भी पैसे कमा सकते हैं. जब आप ब्लॉगिंग कर गूगल एड्सेंस (Google Adsense) से पैसे कमा सकते हैं तो अफिलीयेट (Affiliate marketing) आपके लिए इससे भी आसान होगा. क्यूंकी गूगल एड्सेंस से पैसे कमाने का मतलब है की आपके ब्लॉग मैं अच्छा ख़ासा ट्रॅफिक आता है. तो ऐसे में आप किस चीज़ का इंतजार कर सकते हैं जल्दी से टॉप अफिलीयेट नेटवर्क्स में अप्लाइ करें और अपने ब्लॉग में अफिलीयेट से पैसे कमायें. अफिलीयेट मतलब बिना इनवेस्टमेंट के पैसे कामना Online without Investment Paise Kaise Kamaye.
श्यामा ग्राम फतेहपुर, ब्लॉक विकासनगर, जिला देहरादून से संबंध रखती हैं। वह श्री त्रिलोक सिंह की विवाहिता है और एक हाउस-वाइफ (गृहस्वामिनी) है। श्यामा ऐसे गाँव में रहती हैं, जहाँ अशिक्षित होने के अलावा, महिलाओं को अपने पति की अनुमति के बिना अपने घरों से बाहर कदम रखने की भी अनुमति नहीं थी। यही हाल श्यामा का भी था, जिनके पति शराबी होने के कारण परिवार की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के लिए भी पर्याप्त पैसा नहीं कमा पाते थे। अपनी मर्जी से श्री त्रिलोक से शादी करने के कारण, श्यामा का परिवार भी उनकी आर्थिक मदद करने से पीछे हटा रहा। फिर, वह समय आया जब श्री त्रिलोक को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा और उसके परिवार के लिए सब कुछ टूट गया। स्थिति यहाँ तक ​​बिगड़ गई कि उन्हें अपने अस्तित्व के लिए अपना घर भी बेचना पड़ा। यहाँ तक ​​कि उनके बच्चों को स्कूल की फीस का भुगतान न कर पाने के कारण उन्हें स्कूलों से निकाल दिया गया।  
×