यह सिर्फ एक ही नहीं बल्कि कई कारकों का संयोजन है जो इस परिवर्तन को उत्पन्न करने का कारण है। आजकल, शिक्षण अब एक कर्तव्य नहीं, बल्कि पैसा कमाने का स्त्रोत बन गया है। स्कूलों और कॉलेजों के बाद शिक्षक निजी ट्यूशन (शिक्षण) केन्द्र चलाते हैं और ट्यूशन की कक्षाओं में प्रवेश लेने के लिए छात्रों को उकसाते भी हैं। यह सबसे सम्मानित शिक्षक-छात्र संबंधों को भी अपमानित कर रहा है, क्योंकि पैसा हमारे चरित्र को गंदा कर देता है। हम सब पैसे के पीछे भाग रहे हैं इसलिए शिक्षक भी ऐसा ही करते हैं। स्कूलों में उन्हें अच्छा पैसा नहीं दिया जाता है, इसलिए उन्हें ट्यूशन लेने के अतिरिक्त कोई दूसरा विकल्प दिखाई नहीं पड़ता है। इसके साथ ही, ग्रामीण स्कूलों और कुछ शहरी विद्यालयों की बुनियादी सुविधाओं की गुणवत्ता बहुत ही अनैतिक हो गई है। सुविधाओं की कमी इस समस्या को और बढ़ावा दे रही है। इसे रोकने के लिए, शिक्षकों को अच्छा पैसा दिया जाना चाहिए और बुनियादी सुविधाओं की गुणवत्ता में सुधार किया जाना चाहिए या प्रत्येक स्कूल को एक ही स्तर पर लाया जाना चाहिए।
श्यामा ग्राम फतेहपुर, ब्लॉक विकासनगर, जिला देहरादून से संबंध रखती हैं। वह श्री त्रिलोक सिंह की विवाहिता है और एक हाउस-वाइफ (गृहस्वामिनी) है। श्यामा ऐसे गाँव में रहती हैं, जहाँ अशिक्षित होने के अलावा, महिलाओं को अपने पति की अनुमति के बिना अपने घरों से बाहर कदम रखने की भी अनुमति नहीं थी। यही हाल श्यामा का भी था, जिनके पति शराबी होने के कारण परिवार की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के लिए भी पर्याप्त पैसा नहीं कमा पाते थे। अपनी मर्जी से श्री त्रिलोक से शादी करने के कारण, श्यामा का परिवार भी उनकी आर्थिक मदद करने से पीछे हटा रहा। फिर, वह समय आया जब श्री त्रिलोक को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा और उसके परिवार के लिए सब कुछ टूट गया। स्थिति यहाँ तक ​​बिगड़ गई कि उन्हें अपने अस्तित्व के लिए अपना घर भी बेचना पड़ा। यहाँ तक ​​कि उनके बच्चों को स्कूल की फीस का भुगतान न कर पाने के कारण उन्हें स्कूलों से निकाल दिया गया।  
गरीबी के कारण, श्यामा और उनके साथी गाँव की महिलाएँ समूह के लिए 100 रुपए की छोटी राशि का भी योगदान नहीं कर पा रही थीं, जिसके कारण समूह टूट गया। ऐसी स्थिति में प्रत्येक सदस्य समूह से अपने नाम वापस लेने के लिए ब्लॉक अधिकारियों से संपर्क करने लगे। लेकिन, ऐसे समय में केवीके और ब्लॉक के अधिकारियों ने महिला समूहों को सफलतापूर्वक समूह चलाने के महत्त्व के बारे में शिक्षित किया और उनके उत्थान के लिए विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में उन्हें जागरूक किया। इसके बाद, महिला समूहों को उन 5 नियमों का पालन करने के लिए निर्देशित किया गया था जिनमें कहा गया था: साप्ताहिक बैठकें, साप्ताहिक बचत, साप्ताहिक ऋण, सही ऋण वापसी और रिकॉर्ड बनाए रखना। इस तरह के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए, समूह 1 जनवरी, 2014 को एक बार गठित हुआ, जिसमें श्यामा देवी के साथ 25 पुराने और नए सदस्य चुने गए। उनके नेतृत्व में, समूह को आय सृजन गतिविधियों के साथ समूह का कायाकल्प करने के लिए प्रेरित किया गया था।
दोस्तों क्या आप जानते हैं  online money  कैसे बना सकते हैं अगर नहीं तो इस Article को आप पूरे अच्छे तरीके से पढ़ें और अंत में आपको पूरे ऑनलाइन पैसे कमाने से संबंधित जानकारियाँ आपको मिल जाएगी इसमें आपको किसी प्रकार की shortcut  और fake method आपको नहीं बताया जाएगा क्योंकि दोस्तों अगर आप shortcut और fake method से पैसा कमाते हैं तो आपको थोड़ी देर के लिए खुशी होती है लेकिन अगर आपको एक सही तरीके से पैसे कमाते हैं,आपके अंदर एक खुशी होती है |   आपको इस काम को करने में उत्सुकता बनाए रखती है जिससे आपका कभी भी मनोवल नहीं गिरता है और हमेशा आप उसे करते ही जाते हैं और अंततः आपको success  मिल ही जाती है इसलिए आप सही रास्ते चुने ना कि किसी भी प्रकार के shortcut रास्ते को तो बिना Time waste किए हुए आपको online money बनाने के लिए क्या-क्या तरीके हैं और हमें क्या करना चाहिए जिससे कि घर बैठे  ऑनलाइन पैसा बना सकें :- [caption id="attachment_124" align="aligncenter" width="571"]online money earn[/caption]
कोई writing में अच्छा होता है तो कोई singing में. सबके पास अलग अलग कला होता है. हम दुशरो से वो चीज़ सीखते है जो हमे पता नहिं होता. वैसे ही आप अपनी talent के जरिये online आसानी से पैसे कमा पाएंगे, और ये कोई गलत बात भी नहिं है. तो आज के इस लेख में आप जानेंगे, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए. आगे बढ़ने से पहले में एक बात clear करना चाहता हूँ के, ये कोई झूट नहीं है; क्यूंकि में भी Internet के जरिये इतना पैसा कमा लेता हूँ, जिससे में आराम से अपनी जरूरतों को पूरा कर पाऊं.
जब $ 50 तक का Negative balance होता है, तो आपको अगले निकासी से पहले न्यूनतम $ 50 जमा करने के अलावा घाटे को कवर करने के लिए पर्याप्त कमीशन अर्जित करना चाहिए। यदि आपका खाता $ 50 से अधिक Negative balance है और अधिक समय तक बना रहता है तो फाइल पर Credit Card से 48 घंटे का शुल्क लिया जाएगा। यदि आपके पास फ़ाइल पर कार्ड नहीं है, तो आपको अपने खाते पर लगाए गए आंशिक प्रतिबंध को हटाने से पहले एक जोड़ने के लिए कहा जाएगा।

(function(){"use strict";function s(e){return"function"==typeof e||"object"==typeof e&&null!==e}function a(e){return"function"==typeof e}function l(e){X=e}function u(e){G=e}function c(){return function(){r.nextTick(p)}}function f(){var e=0,n=new ne(p),t=document.createTextNode("");return n.observe(t,{characterData:!0}),function(){t.data=e=++e%2}}function d(){var e=new MessageChannel;return e.port1.onmessage=p,function(){e.port2.postMessage(0)}}function h(){return function(){setTimeout(p,1)}}function p(){for(var e=0;et.length)&&(n=t.length),n-=e.length;var r=t.indexOf(e,n);return-1!==r&&r===n}),String.prototype.startsWith||(String.prototype.startsWith=function(e,n){return n=n||0,this.substr(n,e.length)===e}),String.prototype.trim||(String.prototype.trim=function(){return this.replace(/^[\s\uFEFF\xA0]+|[\s\uFEFF\xA0]+$/g,"")}),String.prototype.includes||(String.prototype.includes=function(e,n){"use strict";return"number"!=typeof n&&(n=0),!(n+e.length>this.length)&&-1!==this.indexOf(e,n)})},"./shared/require-global.js":function(e,n,t){e.exports=t("./shared/require-shim.js")},"./shared/require-shim.js":function(e,n,t){var r=t("./shared/errors.js"),i=(this.window,!1),o=null,s=null,a=new Promise(function(e,n){o=e,s=n}),l=function(e){if(!l.hasModule(e)){var n=new Error('Cannot find module "'+e+'"');throw n.code="MODULE_NOT_FOUND",n}return t("./"+e+".js")};l.loadChunk=function(e){return a.then(function(){return"main"==e?t.e("main").then(function(e){t("./main.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"dev"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("dev")]).then(function(e){t("./shared/dev.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"internal"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("internal"),t.e("qtext2"),t.e("dev")]).then(function(e){t("./internal.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"ads_manager"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("ads_manager")]).then(function(e){t("./ads_manager/main.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"publisher_dashboard"==e?t.e("publisher_dashboard").then(function(e){undefined,undefined,undefined,undefined,undefined,undefined,undefined,undefined}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"content_widgets"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("content_widgets")]).then(function(e){t("./content_widgets.iframe.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):void 0})},l.whenReady=function(e,n){Promise.all(window.webpackChunks.map(function(e){return l.loadChunk(e)})).then(function(){n()})},l.installPageProperties=function(e,n){window.Q.settings=e,window.Q.gating=n,i=!0,o()},l.assertPagePropertiesInstalled=function(){i||(s(),r.logJsError("installPageProperties","The install page properties promise was rejected in require-shim."))},l.prefetchAll=function(){t("./settings.js");Promise.all([t.e("main"),t.e("qtext2")]).then(function(){}.bind(null,t))["catch"](t.oe)},l.hasModule=function(e){return!!window.NODE_JS||t.m.hasOwnProperty("./"+e+".js")},l.execAll=function(){var e=Object.keys(t.m);try{for(var n=0;n=c?n():document.fonts.load(u(o,'"'+o.family+'"'),a).then(function(n){1<=n.length?e():setTimeout(t,25)},function(){n()})}t()});var w=new Promise(function(e,n){l=setTimeout(n,c)});Promise.race([w,m]).then(function(){clearTimeout(l),e(o)},function(){n(o)})}else t(function(){function t(){var n;(n=-1!=y&&-1!=g||-1!=y&&-1!=v||-1!=g&&-1!=v)&&((n=y!=g&&y!=v&&g!=v)||(null===f&&(n=/AppleWebKit\/([0-9]+)(?:\.([0-9]+))/.exec(window.navigator.userAgent),f=!!n&&(536>parseInt(n[1],10)||536===parseInt(n[1],10)&&11>=parseInt(n[2],10))),n=f&&(y==b&&g==b&&v==b||y==x&&g==x&&v==x||y==j&&g==j&&v==j)),n=!n),n&&(null!==_.parentNode&&_.parentNode.removeChild(_),clearTimeout(l),e(o))}function d(){if((new Date).getTime()-h>=c)null!==_.parentNode&&_.parentNode.removeChild(_),n(o);else{var e=document.hidden;!0!==e&&void 0!==e||(y=p.a.offsetWidth,g=m.a.offsetWidth,v=w.a.offsetWidth,t()),l=setTimeout(d,50)}}var p=new r(a),m=new r(a),w=new r(a),y=-1,g=-1,v=-1,b=-1,x=-1,j=-1,_=document.createElement("div");_.dir="ltr",i(p,u(o,"sans-serif")),i(m,u(o,"serif")),i(w,u(o,"monospace")),_.appendChild(p.a),_.appendChild(m.a),_.appendChild(w.a),document.body.appendChild(_),b=p.a.offsetWidth,x=m.a.offsetWidth,j=w.a.offsetWidth,d(),s(p,function(e){y=e,t()}),i(p,u(o,'"'+o.family+'",sans-serif')),s(m,function(e){g=e,t()}),i(m,u(o,'"'+o.family+'",serif')),s(w,function(e){v=e,t()}),i(w,u(o,'"'+o.family+'",monospace'))})})},void 0!==e?e.exports=a:(window.FontFaceObserver=a,window.FontFaceObserver.prototype.load=a.prototype.load)}()},"./third_party/tracekit.js":function(e,n){/**


इन रिकॉर्ड्स में मेडिकल हिस्ट्री व फिजिकल रिपोर्ट, क्लिनिक रिपोर्ट, ऑफिस नोट्स, ऑपरेटिव नोट्स, कंसल्टेशन नोट्स, डिस्चार्ज समरी, मनोचिकित्सक आकलन, पैथोलॉजी-लैब रिपोर्ट व एक्सरे रिपोर्ट(Medical History, Physical Report, Clinical Report, Office Notes, Operative Notes, Consultation Notes, Discharge Summary, Psychiatrist Assessment, Pathological and Lab Reports and X-Ray Reports) इत्यादि शामिल हैं।
अगर आप एक Programmer हैं और आपको Apps Design और Coding(Java, C++) करना आता है तो आप अपना खुद का App बना कर बहुत पैसे कमा सकते हैं। बस आपको एक ज़बर्स्दस्त App बनाने की ज़रुरत है और उसे Google Play या App Store पर Publish कर दीजिये। आप अपने App को Pay Per Download भी बना सकते हैं या Admob Ads से पैसे भी कमा सकते हैं। आप मोबाइल फ़ोन के लिए Ebook App भी बना सकते हैं और उसे App store पर बेच सकते हैं।

ऑनलाइन पैसे कमाने की शुरुआत करने के लिए ब्लॉगिंग सबसे अच्छा तरीका है। आप Blogger या Wix जैसे फ्री blogging platform पर अपना खुद का मुफ्त बनलॉग बना सकते हैं और 6 माह बाद AdSense अकाउंट के अप्‍लाई कर अच्छे-खासे पैसे कमाना शुरू कर सकते हैं। ब्लॉगिंग बहुत ही आसान है और सबसे बढ़िया बात यह हैं की यह काम अपनी नौकरी करते हुए पार्ट टाइम अपने मन मर्जी से कर सकते हैं।


इसलिए आज हम हमारे दोस्तों को ऑनलाइन इंटरनेट पर पैसा कैसे कमाते हैं के बारे में अच्छी-अच्छी जानकारी बताने वाले हैं | इस जानकारी के कारण शायद हर कोई जान सकेगा कि ऑनलाइन पैसा कैसे कमाया जाता है | हम देखते हैं कि बहुत सारे लोग इंटरनेट पर ऑनलाइन रिजल्ट देखते हैं, ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं, ऑनलाइन मोबाइल रिचार्ज करते हैं, या ऑनलाइन डिश रिचार्ज भी करते हैं |
इस दौरान, श्यामा देवी ने आसानी से उपलब्ध फसल/कच्चे माल के साथ कुछ स्थानीय व्यवसाय करने के बारे में जानने/सीखने के लिए भी महिला समूह बनाया। इस प्रक्रिया में, केवीके ने महिला समूहों को खाद्य पदार्थों की पैकेजिंग, संरक्षण तकनीक, मूल्य संवर्धन आदि के प्रशिक्षण के साथ-साथ ऐसे उत्पादों के विपणन के बारे में कुशलता से सीखने के लिए प्रेरित किया। इससे महिलाओं को आर्थिक रूप से स्थिर और स्वतंत्र बनने में मदद मिली।
YouTube के बारे में कौन नहिं जानता. फिर भी जानकारी केलिए बता देता हूँ के ये world का 3rd most popular website है, जहाँ हर रोज millions views होते है. जो ये नहिं जानते में उन्हें बताना चाहूँगा के YouTube एक बेहतर जरिया है पैसे कमाने का. Content लिखने को Blogging कहते है और Video के जरिये पैसे कमाने को Vlogging कहते है. Vlogging यानि video blogging. मैंने पहले भी Blogging vs Vlogging के बारे में एक post लिखा था, आप चाहे तो उसे पढ़ सकते हैं. इसमें भी आपके पास दो चीजों का होना बहुत जरुरी है.
तो ऐसे बहुत सारे वेबसाइट से जहां पर आप Article/Post लिख सकते हैं। बहुत ऐसे म्यूजिक वेबसाइट से जो बोलते हैं कि म्यूजिक बना कर देते हैं। तो आपको उसके बदले में कुछ पैसे मिलेंगे। ऐसे ही बहुत सारे आपको काम ऑनलाइन में मिल जाते हैं। म्यूजिक बना सकते हैं। किसी के वेबसाइट पर लिख सकते हैं। किसी के लिए वीडियो बना सकते हैं। अगर आपको वेबसाइट बनाना आता है। तो वेबसाइट बनाने का पैसे ले सकते हैं। पैसे आप दूसरों का काम कर सकते हैं। 🙂
हर व्यक्ति में एक ना एक टैलेंट जरूर होता है। माली जी अगर आपको राइटिंग का टैलेंट है। और आप लिखना पसंद करते हैं। तो आप किसी कंपनी के लिए टाइप कर सकते हैं। जैसे कि बहुत ऐसे कंपनी है। जो चाहते हैं कि उनके वेबसाइट पर हमेशा Article Updates होता रहे। उनके पास इतना टाइम नहीं होता है क्योंकि उनके पास और भी बहुत सारे बिजनेस होते हैं। वह चाहते हैं कि कोई ऐसा हमें मिले जो मेरी वेबसाइट पर हमेशा आर्टिकल डालते रहे। 🙂
तो internet se paise kamane ke tarike in hindi या online paise kaise kamaye अब आपको इन सवालों के जबाव मिल गए होंगे. अगर आपके पैसे कमाने की इक्छा है तो आपके पास एक लैपटॉप होना जरुरी है. अगर आपके पास नया लैपटॉप कमाने के पैसे नहीं है तो आप पुराना लैपटॉप खरीद कर भी काम कर सकते है पुराना लैपटॉप आपको olx और quickr जैसी वेबसाइट में मोबाइल की कीमत में मिल जायेंगे.
  Marketing और Advertising के लिए आप social media का सहारा ले सकते हैं क्योंकि आज का खाली समय में लोग social media पर ही  बिताते हैं और कुछ लोग तो अपने काम के समय भी social media पर लगे रहते हैं और अगर आप सोशल मीडिया का फायदा उठाना चाहते हैं तो आप बहुत ही अच्छी तरीके से उठा सकते हैं इसके लिए आपको सोशल मीडिया में थोड़ा  समय बिताना होगा और आप लोगों को अपने ऑनलाइन सर्विस के बारे में बता सकते हैं और अगर आपका सर्विस पसंद आया तो उसे ले सकते हैं जिससे आपको दो तरह के फायदे होंगे पहला फायदा यह होगा कि आपका service sell हो जाएगा | [caption id="attachment_102" align="aligncenter" width="448"]                 Product promote best social media platform[/caption] दूसरा फायदा यह है आपको online market में लोग जानने लगेंगे और आपका sell increase होता जाएगा और आप एक अच्छे online service provider के रूप में जाने जाएंगे लेकिन आपको हमेशा यह बात ध्यान में रखना है कि आप जो भी service provide कर रहे हैं | वहां लोगों के लिए Helpful और trusted  हो ऐसा ना की आप लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं तो आप थोड़े समय के लिए पैसे कमा सकते हैं लेकिन आपको लंबे समय के लिए सफल नहीं हो पाएंगे इसलिए आप ध्यान में रखिए कि आप हमेशा ऐसा service provide करें जिससे लोगों की मदद हो सके |  
हाइ ट्रॅफिक वाले शब्दों (Keywords) का चयन करें और उनमें ब्लॉग पोस्ट लिखें फिर हर एक ब्लॉग पोस्ट को Social Media Platform जैसे Facebook, Twitter, Google पर Promote Share और promote करें इससे आपके ब्लॉग में ट्रॅफिक बढ़ेगा और आपका revenue भी बढ़ेगा. आप अपने ब्लॉग में कई अफिलीयेट मार्केटिंग कंपनियों के अफिलीयेट लिंक लगा कर उनके प्रॉडक्ट्स प्रमोट कर सकते हैं. भारत मेी कई टॉप अफिलीयेट कंपनीज़ Top ­Affiliate Companies in India हैं जिनमें Amazon Shopping, Godaddy, Flipkart, Makemytrip, Yatra, Hostgator Hosting, Ebay, Bluehost Hosting, , Ebay Shopping etc. इन कंपनीज़ के लिए आप अफिलीयेटिंग मार्केटिंग  कर सकते है और ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं Affilaite marketing se paise kamaye

किराए के आवास के लिए अपने घर की खोज के दौरान, आप कई कारकों पर विचार करते हैं। आप कितने अच्छे क्षेत्र की जांच करते हैं; आप अपने कार्यालय से घर की दूरी की गणना करते हैं; आप ध्यान दें कि सामाजिक बुनियादी ढांचा पर्याप्त है; और, आप निश्चित रूप से हर पैसा भरते हैं जिसे आपको किराया देना होगा हालांकि, आपकी प्राथमिकता सूची में कुछ कारक हैं, लेकिन उन्हें अनदेखा कर आप रातों की नींद ले सकते हैं। पर्याप्त साफ है? आप गंदे परिवेश को गंभीर समस्या के रूप में नहीं मान सकते हैं; यह आपके घर का हिस्सा नहीं है हालांकि, आपके घर के पास चल रहे एक कूड़ा घर या सीवेज पाइप आपके और आपके परिवार के लिए स्वास्थ्य समस्या पैदा कर सकता है। वे भी हर समय बदबूदार गंध को धूमिल करेंगे क्षेत्र के आसपास जल प्रवेश मच्छरों के लिए एक प्रजनन स्थल हो सकता है पर्याप्त सुरक्षित है? आपने घर के सभी ताले, दरवाजे और खिड़कियां जांच लिए हैं, लेकिन अपने घर के आसपास के क्षेत्र में सुरक्षा समान रूप से महत्वपूर्ण है। यह एक महत्वपूर्ण मुद्दा है जिसे आप ध्यान में रखना चाहिए, भले ही आप एक छात्र हों, जो घर में किसी भी क़ीमती सामान नहीं लेते हैं। पर्याप्त कूल? आप एक इमारत की ऊपरी मंजिल पर रहना पसंद कर सकते हैं क्योंकि बालकनी से सुंदर दृश्य का आनंद लें। लेकिन, यह मत भूलो कि सर्दियों के दौरान ऊपरी मंजिल गर्मियों में और गर्म हो जाएगा। एक कमरे जो प्रत्यक्ष सूर्य के प्रकाश को प्राप्त करता है, वहां ठंडा होने के लिए अधिक समय लगेगा भले ही एक एयर कंडीशनर हो और अंत में आपका बिजली बिल बढ़ जाएगा आज्ञाकारी पर्याप्त? अगर आप किसी अपार्टमेंट में जाते हैं, तो आपको निवासियों के कल्याण संघ (आरडब्ल्यूए) द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों का पालन करना होगा। कुछ नियम हो सकते हैं जो आपकी जीवन शैली के अनुरूप नहीं हो सकते हैं आरडब्ल्यूए के मानदंडों के बारे में जानना एक बार जब आप घर में स्थानांतरित हो जाते हैं तो आपको परेशानी हो सकती है। समझौते को अंतिम रूप देने से पहले, अपने मकान मालिक के साथ उन पर चर्चा करें। पर्याप्त कानूनी? उचित दस्तावेज केवल मकान मालिक के लिए महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि किरायेदार के लिए भी महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि आपके किराया समझौते में सभी खंड हैं जिन पर आपने अपने मकान मालिक के साथ मौखिक रूप से चर्चा की है हमेशा अपने किराया समझौते की एक प्रति अपने साथ रखें

कुछ माता-पिता अपने बच्चों पर बहुत अधिक ध्यान देते हैं और हमेशा यदि वे  कुछ गलत करें तो उन्हें रोकते हैं। लेकिन कुछ माता-पिता अपने बच्चों को उन सम्मानों को नहीं सिखाते हैं जो उन्हें अपने शिक्षकों को देना चाहिए। कुछ माता-पिता अपने बच्चों को महंगे फोन और अन्य ऐसे गैजेट (यंत्र) भी दे देते हैं जिससे वे अकड़ कर चलते हैं। इसलिए, बहुत से बच्चे अब शिक्षा के लिए, बल्कि केवल पैसे की धौंस दिखाने के लिए स्कूल जा रहे हैं। यही कारण है कि स्कूल जाने वाले बच्चों के साथ एमएमएस जैसी कई अनैतिक घटनाएं हो रही हैं। इसके अतिरिक्त बाहर काम करने वाले माता-पिता के पास अपने बच्चों के लिए समय कम होता है। वे इससे चिंतित रहते हैं कि उनके बच्चे क्या कर रहे हैं और किसके साथ वे अपना समय बिता रहे हैं। माता-पिता अपने समय को छोड़कर अपने बच्चों को सब कुछ देने का प्रयास करते हैं। लेकिन माता-पिता को माहौल के समय के महत्व का एहसास होना चाहिए।
×