सबसे पहले हमें, YouTube पर channel बनाना पड़ेगा. और फिर उसमे खुदके विडियो upload करने पड़ेंगे. याद रहे, वो विडियो तुम्हारे ही होने चाहिये. नहीं तो हमें copyright strike मिलेगा. और फिर हमें हमारे videos को monetize करके adsense से connect करना पड़ेगा. जिस्से हमारे विडियो पर विज्ञापन नजर आएगा. और जब भी कोई व्यक्ति इंसान, विडियो देखते समय ads पर click करेगा. हमे पैसे मिलेंगे.
 कभी-कभी कुछ प्रोडक्ट पर Affiliate से मिलने वाला कमीशन 10 प्रतिशत तक हो सकता है. जो आपके लिए काफी फायदेमंद है. अगर आप Affiliate Marketing से अच्छी कमाई करना चाहते हैं. तो आपके पास काफी सारे ऑडियंस का होना बहुत जरूरी है. अगर आप ऑनलाइन Earning करना चाहते हैं तो आपके लिए Affiliate Marketing एक अच्छा विकल्प है. Affiliate Marketing मैं कुछ कंपनी प्रमुख है. जैसे -Amazone, eBay आदि.
यूट्यूब पर बहुत सारे लोग दूसरों का मनोरंजन होने के लिए विभिन्न वीडियोस बनाते हैं और यूट्यूब पर अपलोड करते हैं | कई बार बहुत सारे वीडियोस ऐसे होते हैं जो बेहतरीन होने के कारण ट्रेंडिंग पर आ जाते हैं | जो वीडियो ट्रेंडिंग पर होता है उस वीडियो के कारण उस चैनल का मालिक आसानी से लाखों रुपए कमा लेता है, यूट्यूब पर काम करते समय आपका मनोरंजन होने के साथ-साथ आपको शोहरत भी मिलती है |
मान लीजिए कि आपको कोई स्मार्टफोन लेना है। और मैं आपको एक लिंक दूंगा और बोलूंगा क्लिक करके आप खरीद लेना। और आप स्मार्टफोन खरीदोगे तो जिस कंपनी का स्मार्टफोन होगा जहां से खरीदोगे वहां से कम मिलेंगे। जो कि अच्छे खासे कमिशन होते हैं। इसके लिए भी आपको एक अच्छे प्लेटफार्म चाहिए जैसे कि, Blogger, Youtube, Social Networking Sites जहां पर आप एक बार में अच्छे खासे Sell करा पाए। ज्यादा जानकारी के लिए नीचे पोस्ट का लिंक दे रहे हैं वह जरूर पढ़ें। 🙂
Affiliate Marketing सुरु करने केलिए आपको कोई invest करने की जरुरत नहिं है. आप अपना पहला selling e-commerce sites जैसे Flipkart और Amazon से सुरु कर सकते है. उनके affiliate program में join करने के बाद आपको हर product का एक affiliate link मिलेगा. जो किओ भी user उस link से वो product खरीदेगा, आपको उसकी कुछ percent commission मिलेगा. आप ये link अपने blog, video, social media और email से share कर सकते हैं.
अगर आप एक Programmer हैं और आपको Apps Design और Coding(Java, C++) करना आता है तो आप अपना खुद का App बना कर बहुत पैसे कमा सकते हैं। बस आपको एक ज़बर्स्दस्त App बनाने की ज़रुरत है और उसे Google Play या App Store पर Publish कर दीजिये। आप अपने App को Pay Per Download भी बना सकते हैं या Admob Ads से पैसे भी कमा सकते हैं। आप मोबाइल फ़ोन के लिए Ebook App भी बना सकते हैं और उसे App store पर बेच सकते हैं।
YouTube,Blogging की तरह है जिसमें आपको वीडियो मैं किसी टॉपिक के बारे में आप अपना experience शेयर कर सकते हैं बस YouTube और ब्लॉगिंग में यही अंतर है कि आप ब्लॉगिंग में लिखकर अपने बातों को लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं और YouTube में उसे वीडियो बनाकर आप लोगों को  अपने बात को शेयर कर सकते हैं और फिर इस पर ऐड लगाकर आप online money earn कर सकते हैं | [caption id="attachment_122" align="aligncenter" width="406"]                          make money youtube[/caption]  
ऑनलाइन बुक राइटिंग – पहले जहाँ बुक लिखकर पब्लिश करवाना किसी टेढ़ी खीर जैसा मुश्किल लगता था वहीँ आज इंटरनेट के इस दौर में अगर आप अपनी बुक लिखना चाहते हैं तो बिना किसी खर्च के किसी भी ई बुक पब्लिशिंग वेबसाइट पर फ्री में अपनी ई-बुक पब्लिश करके ऑनलाइन बेच सकते हैं। अमेज़न, फ्लिपकार्ट, ईबे जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ई -बुक्स को बड़ी आसानी से बेचा जा सकता है।
वेबसाइट को मोनेटाइजेशन के लिए सबसे अच्छा तरीका गूगल का एडसेंस प्रोग्राम है, जो विश्व का सबसे बढ़िया एड प्रोग्राम है. गूगल का एडसेंस आपके वेबसाइट के आर्टिकल पर विज्ञापन दिखाता है, जहां से घर बैठे पैसे कमाने के तरीके में बहुत ज्यादा पॉपुलर है. घर बैठे एक अच्छी इनकम कर सकते हैं. तो आप एक वेबसाइट कैसे शुरु करें और कैसे बनाएं इसके लिए बहुत सारे वीडियो भी यूट्यूब पर अवेलेबल है.
इंटरनेट से पैसे कमाना चाहते हैं। वह भी ऑनलाइन तो ब्लॉगिंग जो है No-1 पर आता है। यह बहुत अच्छा प्लेटफार्म में बहुत ही जल्दी इसमें अच्छे पैसे कमा सकते हैं। ब्लॉगिंग में क्या करना होता है कि, अगर आपके पास Wrtting Skills है। तो आप अच्छे से इसमें पोस्ट लिखकर अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं। ब्लॉगिंग में अगर पैसे इन्वेस्टमेंट की बात करें तो बहुत कम इन्वेस्ट होता है। और जब पैसे आने लगते हैं। तो काफी अच्छे खासे पैसे आने लगते हैं। 🙂
मैंने यहाँ यूट्यूब से पैसे कमाने के जितने भी तरीकों के बारे में आपको जानकारी दिए हैं | आज के समय में यह यूट्यूब से पैसे कामाने में सबसे ज्यादा लोग उपयोग करते हैं और इसलिए यह सभी आईडिया 100% सही है | लेकिन इसे करना इतना आसान नही है और न ही इतना मुश्किल कि आप इसे कर न पायें | अगर आप यूट्यूब से पैसे ऑनलाइन घर बैठे कमाना चाहते है तो इन्हें इस्तेमाल करके जरुर कोशिश कीजिये और अगर आपको मुझसे कोई मदद इस से सम्बंधित चाहिए तो आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं |

हेलो दोस्तों, मेरा नाम एस. के. सिन्हा है. मुझे ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग तथा कर्रेंट न्यूज़ के बारे में पढ़ना और लोगो को बताना पसंद है. किसी नॉलेज का सबसे अच्छा इस्तेमाल यही है की उसे सीखो और दुसरो तक पंहुचा दो. हम यह यही करेंगे. अब जैसे जैसे इंटरनेट का इस्तेमाल बढ़ रहा है वैसे ही इंडिया भी डिजिटल होता जा रहा है. तो हम भी कुछ सीखेंगे कुछ सिखाएगे, इंडिया को थोड़ा और डिजिटल तथा युवाओ को ससकत बनायगे.
[caption id="attachment_121" align="aligncenter" width="412"]                        make-money-blogging-in-hindi[/caption] आप ब्लॉगिंग करके अच्छे खासे कैसे बना सकते हैं इसमें आपको  अपने experience को शेयर करना होता है जिससे लोगों की मदद हो सके और फिर उस पर ads लगाकर आप पैसे कमा सकते हैं इसको शुरू करने के लिए आपको किसी भी प्रकार के पैसे खर्च करने की जरूरत नहीं है आप free में ही Blogger platform पर आप अपना ब्लॉग शुरू कर सकते हैं जो कि Google का है एक product  है जिसमें आप अपने बातों को लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं और बाद में उससे Online money earn कर सकते हैं |  
ऑनलाइन सामान बेचना – अगर आप किसी प्रोडक्ट को बनाने में महारत रखते हैं और आपको सिर्फ ऐसे प्लेटफार्म की जरुरत है जहाँ आपके प्रोडक्ट को लाखों लोग देख सके और खरीद सके तो इसके लिए आप ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ऑनलाइन सेलर के रूप में अपने प्रोडक्ट्स बेच सकते हैं। ऐसा करने पर आप बिना खर्च के, लाखों लोगों तक अपने प्रोडक्ट्स की पहुँच बना पाएंगे और अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन बेचकर काफी अच्छा पैसा कमा सकेंगे।
एक पारंपरिक भारतीय व्यवस्था में गुरु-शिष्य का रिश्ता एक बहुत ही पवित्र रिश्ता माना जाता था, जहाँ गुरु या शिक्षक अपने छात्रों में, आध्यात्मिक, वैदिक, नैतिक और अकादमिक शिक्षाओं को संचारित करते थे। गुरु शब्द का अर्थ एक अंधेरे में फंसे हुए व्यक्ति को ज्योतिमान करना (गु का अर्थ है, अंधकार और रू का अर्थ प्रकाश) है। संपूर्ण उस समय शिक्षा का उद्देश्य उच्च नैतिक महत्व से संतुलित व्यक्तित्व में तथा अज्ञानता को एक ज्ञानता में बदलना होता था। इसके बदले में छात्र अपने गुरुओं के घर के कार्यों में सहायता करते थे और जो समर्थ होता था वह गुरू दक्षिणा के रूप में धन का भुगतान करता था। यह पारस्परिक संबंध शिक्षक के ज्ञान और छात्र की आज्ञाकारिता पर आधारित था। ऐसे गुरु-शिष्य संबंध में, एक सक्षम गुरु के कंधों पर सब कुछ छोड़ दिया जाता था, जो एक निर्माता के रूप में अभिनय करके, अपने शिष्यों या छात्रों को एक नई आकृति प्रदान करता था।
×