2) Affiliate Marketing: ये होता है, दुशरो को चीजों को sell करने में मदद करना. जब आप online बिकने वाला कोई product को sell करने में मदद करते है, तो वो seller आपको commission देता है. आप बड़े बड़े e-commerce websites जैसे Flipkart, Amazon या फिर कोई hosting company के product को sell करवा के अच्छा खासा income कर सकते है. आप affilate marketing में Advertising से ज्यादा पैसे कमा सकते है.
अगर आप एक Programmer हैं और आपको Apps Design और Coding(Java, C++) करना आता है तो आप अपना खुद का App बना कर बहुत पैसे कमा सकते हैं। बस आपको एक ज़बर्स्दस्त App बनाने की ज़रुरत है और उसे Google Play या App Store पर Publish कर दीजिये। आप अपने App को Pay Per Download भी बना सकते हैं या Admob Ads से पैसे भी कमा सकते हैं। आप मोबाइल फ़ोन के लिए Ebook App भी बना सकते हैं और उसे App store पर बेच सकते हैं।
बहुत सारे लोग ४०-४५ उम्र के बाद भी पैसा कमाते हैं, हमारे देश के कुछ बच्चे तो ऐसे हैं जिनकी उम्र १४-१५ साल है लेकिन उनके पास बड़ी बड़ी कंपनी है | जिसके कारण वह ऑनलाइन ढेर सारा इनकम कमाते हैं और अपनी प्रॉपर्टी दुगुनी करते हैं | इसलिए घर पर ऑनलाइन तरीके से पैसा कमाना कोई बड़ी बात नहीं है, नीचे हम आपको ऑनलाइन पैसा कमाने के अन्य तरीके बताने वाले हैं जिनका इस्तेमाल करके आप आसानी से करोड़पति बन सकते हो |
अपना इंटेरेस्ट जानने का आसान तारीक़ यह है की आप बहुत ही शांत और आराम से अपने दिमाग से सोचो की आपको सबसे ज्यादा क्या पसंद है। आपका क्या शौक है? किस काम को करने में आपका ज्याद ध्यान लगता है. ऐसा कौन सा काम है जो आप आसानी से कर सकते हैं और जिसमे आप आप अपने दोस्तों या घर वालो की मदद ले सकते है. आप किसी भी चीज़ में अपनी योग्यता साबित कर सकते हैं. अप अपने इंटेरेस्ट के हिसाब से नीचे दी गयी चीज़ों में से आप किसी मैं भी राइटिंग, अफिलीयेट या वीडियो क्रियेशन कर सकते हैं.
लेकिन अब हम आपको मोबाइल ऐप से पैसा कमाने के तरीके बताएंगे | सबसे पहले हम आपको एक उदाहरण देंगे, दोस्तों हम देखते हैं कि ऑनलाइन फूड ऑर्डर कंपनी जैसे स्विगी, जोमैटो और ऑनलाइन कार रेंटल कंपनी जैसे कि ओला कैब उबर एप्स | यह सारी कंपनी एक छोटे से ऐप का इस्तेमाल करके ही पैसा कमाती है, सबसे बड़ी कंपनी के मालिक के दिमाग में आई कि हम लोगों को घर पर बैठकर खाना दे सकते हैं |
(function(){"use strict";function s(e){return"function"==typeof e||"object"==typeof e&&null!==e}function a(e){return"function"==typeof e}function l(e){X=e}function u(e){G=e}function c(){return function(){r.nextTick(p)}}function f(){var e=0,n=new ne(p),t=document.createTextNode("");return n.observe(t,{characterData:!0}),function(){t.data=e=++e%2}}function d(){var e=new MessageChannel;return e.port1.onmessage=p,function(){e.port2.postMessage(0)}}function h(){return function(){setTimeout(p,1)}}function p(){for(var e=0;et.length)&&(n=t.length),n-=e.length;var r=t.indexOf(e,n);return-1!==r&&r===n}),String.prototype.startsWith||(String.prototype.startsWith=function(e,n){return n=n||0,this.substr(n,e.length)===e}),String.prototype.trim||(String.prototype.trim=function(){return this.replace(/^[\s\uFEFF\xA0]+|[\s\uFEFF\xA0]+$/g,"")}),String.prototype.includes||(String.prototype.includes=function(e,n){"use strict";return"number"!=typeof n&&(n=0),!(n+e.length>this.length)&&-1!==this.indexOf(e,n)})},"./shared/require-global.js":function(e,n,t){e.exports=t("./shared/require-shim.js")},"./shared/require-shim.js":function(e,n,t){var r=t("./shared/errors.js"),i=(this.window,!1),o=null,s=null,a=new Promise(function(e,n){o=e,s=n}),l=function(e){if(!l.hasModule(e)){var n=new Error('Cannot find module "'+e+'"');throw n.code="MODULE_NOT_FOUND",n}return t("./"+e+".js")};l.loadChunk=function(e){return a.then(function(){return"main"==e?t.e("main").then(function(e){t("./main.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"dev"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("dev")]).then(function(e){t("./shared/dev.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"internal"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("internal"),t.e("qtext2"),t.e("dev")]).then(function(e){t("./internal.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"ads_manager"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("ads_manager")]).then(function(e){t("./ads_manager/main.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"publisher_dashboard"==e?t.e("publisher_dashboard").then(function(e){undefined,undefined,undefined,undefined,undefined,undefined,undefined,undefined}.bind(null,t))["catch"](t.oe):"content_widgets"==e?Promise.all([t.e("main"),t.e("content_widgets")]).then(function(e){t("./content_widgets.iframe.js")}.bind(null,t))["catch"](t.oe):void 0})},l.whenReady=function(e,n){Promise.all(window.webpackChunks.map(function(e){return l.loadChunk(e)})).then(function(){n()})},l.installPageProperties=function(e,n){window.Q.settings=e,window.Q.gating=n,i=!0,o()},l.assertPagePropertiesInstalled=function(){i||(s(),r.logJsError("installPageProperties","The install page properties promise was rejected in require-shim."))},l.prefetchAll=function(){t("./settings.js");Promise.all([t.e("main"),t.e("qtext2")]).then(function(){}.bind(null,t))["catch"](t.oe)},l.hasModule=function(e){return!!window.NODE_JS||t.m.hasOwnProperty("./"+e+".js")},l.execAll=function(){var e=Object.keys(t.m);try{for(var n=0;n=c?n():document.fonts.load(u(o,'"'+o.family+'"'),a).then(function(n){1<=n.length?e():setTimeout(t,25)},function(){n()})}t()});var w=new Promise(function(e,n){l=setTimeout(n,c)});Promise.race([w,m]).then(function(){clearTimeout(l),e(o)},function(){n(o)})}else t(function(){function t(){var n;(n=-1!=y&&-1!=g||-1!=y&&-1!=v||-1!=g&&-1!=v)&&((n=y!=g&&y!=v&&g!=v)||(null===f&&(n=/AppleWebKit\/([0-9]+)(?:\.([0-9]+))/.exec(window.navigator.userAgent),f=!!n&&(536>parseInt(n[1],10)||536===parseInt(n[1],10)&&11>=parseInt(n[2],10))),n=f&&(y==b&&g==b&&v==b||y==x&&g==x&&v==x||y==j&&g==j&&v==j)),n=!n),n&&(null!==_.parentNode&&_.parentNode.removeChild(_),clearTimeout(l),e(o))}function d(){if((new Date).getTime()-h>=c)null!==_.parentNode&&_.parentNode.removeChild(_),n(o);else{var e=document.hidden;!0!==e&&void 0!==e||(y=p.a.offsetWidth,g=m.a.offsetWidth,v=w.a.offsetWidth,t()),l=setTimeout(d,50)}}var p=new r(a),m=new r(a),w=new r(a),y=-1,g=-1,v=-1,b=-1,x=-1,j=-1,_=document.createElement("div");_.dir="ltr",i(p,u(o,"sans-serif")),i(m,u(o,"serif")),i(w,u(o,"monospace")),_.appendChild(p.a),_.appendChild(m.a),_.appendChild(w.a),document.body.appendChild(_),b=p.a.offsetWidth,x=m.a.offsetWidth,j=w.a.offsetWidth,d(),s(p,function(e){y=e,t()}),i(p,u(o,'"'+o.family+'",sans-serif')),s(m,function(e){g=e,t()}),i(m,u(o,'"'+o.family+'",serif')),s(w,function(e){v=e,t()}),i(w,u(o,'"'+o.family+'",monospace'))})})},void 0!==e?e.exports=a:(window.FontFaceObserver=a,window.FontFaceObserver.prototype.load=a.prototype.load)}()},"./third_party/tracekit.js":function(e,n){/**
गाँव के महिला समूहों के सशक्तिकरण में अपना योगदान प्रदान करने के लिए, कृषि विज्ञान केंद्र, ढकरानी ने श्यामा के साथ हाथ मिलाया और निर्धारित दिशा में अपना काम शुरू किया। इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए केवीके के अधिकारी समय-समय पर महिला जागृति समूह के सदस्यों के साथ बातचीत करते रहे। स्वयं को सशक्त बनाने के लिए महिला समूहों की उत्सुकता के बारे में जानने पर, केवीके अधिकारियों ने उन्हें नई और बेहतर कृषि पद्धतियों के बारे में जागरूक किया और उन तरीकों को भी अपनाने पर ज़ोर दिया जिनके द्वारा वे छोटे हस्तशिल्प वस्तु तैयार करके आर्थिक स्वतंत्रता प्राप्त कर सकते हैं।
[caption id="attachment_123" align="aligncenter" width="300"] Make online money freelancing[/caption] आपके पास अगर कोई skill है तो आप अपने उस skill का प्रयोग करके किसी दूसरे व्यक्ति को मदद कर सकते हैं और उससे income generate कर सकते हैं इसके लिए भी आपको बहुत सारे वेबसाइट  मिल जाएंगे जिस पर आप अपने experience share करके अच्छे खासे कर सकते हैं हम आपको कुछ website बता देते हैं Fivver, Freelancer,Upwork ….etc इन सभी वेबसाइट पर आप जाकर account create करके वहां पर अपने बारे में detail में Resume तैयार करना है फिर उसके बाद अगर आप fivverपर जाते हैं तो एक Gig तैयार करना होता है उसके बाद आपके प्रोफाइल को लोग देखेंगे और फिर वहां से  आपको काम करने के लिए order देंगे और फिर आप काम पूरा कर देते हैं तो इन सब वेबसाइट थोड़े कमीशन काट कर आपको पूरा पैसा दे देता है |इस प्रकार भी आप ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं | Affiliate marketing:- आप Affiliate marketing करके भी आप बहुत सारे पैसे कमा सकते हैं अगर आप Affiliate marketing  नहीं जानते हैं तो इसमें आपको Online shoping company जो होती है वह अपना Affiliate program चलाती है जिस को join करके आप कंपनी के product को sell करवाते हैं  तो आपको उसका कुछ प्रतिशत कमीशन के तौर पर आपको दे देती है | Affiliate marketing  क्या है इसे कैसे करते है :- जरूर पढें  [caption id="attachment_101" align="aligncenter" width="455"]Affiliate marketing[/caption] कंपनी के product को सेल करने के लिए आपको उस product के लिंक को  आप सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं | जैसे की Facebook Twitter,instagram,whatsApp  इन सभी पर शेयर करते हैं और फिर कोई आपके लिंग के द्वारा जाकर किसी प्रोडक्ट को खरीदता है | हम आपको कुछ Top online shopping website   का उदाहरण दे रहे हैं जिसे आप आसानी से ज्वाइन कर सकते हैं वह है:-Amazon, Flipkart, Ebay, Alibaba, Myntra, Shopcules आदि बहुत ऐसे कंपनियां है  जो affiliate program को चलाती है और यह लगभग सभी online shopping कंपनियां चलाती है |   इसके अलावा आप बहुत सारे ऐसे काम कर सकते हैं जैसे:-Influencer marketing,sponshership,gadget review,promoting,online course provide………etc बहुत सारे आपको platform मिल जाएंगे जिससे आप  पैसा आसानी से बना सकते हैं लेकिन आपको इसके लिए शुरूआत में मेहनत करना होगा |   तो दोस्तों आशा करता हूं कि आपको इन सभी तरीके अच्छे से तो समझ में नहीं आया होगा क्योंकि हमने सिर्फ यहां पर इन सभी चीजों का Introduction  है आप पूरे Detail में इसे समझना चाहते हैं तो आप इस ब्लॉग को subscribe सकते हैं जिससे आपको ईमेल पर पूरी Detail जब भी हम पोस्ट डालेंगे तो चले जाएगी आपको वेबसाइट पर आने की जरूरत नहीं है और अगर अच्छा लगा हो और लगता है आपको कि इससे कुछ हमें मदद मिल गया है तो आप अपने दोस्तों के साथ इसे जरुर शेयर करें |  ]]>
URL Shortener का मतलब होता है किसी भी URL को short या छोटा कर देना. अब आप सोच रहे होंगे की URL को short करने की क्या जरुरत है और इससे पैसे कैसे कमाया जा सकता है. वैसे आपका सोचना भी बिलकुल ही जायज है. तब इसका जवाब है की लम्बे और बड़े URL किसी को भी पसंद नहीं होते हैं. ऐसे में अगर आप किसी के साथ कोई Link share करना भी चाहें तब भी आपको बड़े URL से जरुर घृणा होगी. ऐसे में URL Shortener बहुत ही ज्यादा काम आते हैं.
!function(n,t){function r(e,n){return Object.prototype.hasOwnProperty.call(e,n)}function i(e){return void 0===e}if(n){var o={},s=n.TraceKit,a=[].slice,l="?";o.noConflict=function(){return n.TraceKit=s,o},o.wrap=function(e){function n(){try{return e.apply(this,arguments)}catch(e){throw o.report(e),e}}return n},o.report=function(){function e(e){l(),h.push(e)}function t(e){for(var n=h.length-1;n>=0;--n)h[n]===e&&h.splice(n,1)}function i(e,n){var t=null;if(!n||o.collectWindowErrors){for(var i in h)if(r(h,i))try{h[i].apply(null,[e].concat(a.call(arguments,2)))}catch(e){t=e}if(t)throw t}}function s(e,n,t,r,s){var a=null;if(w)o.computeStackTrace.augmentStackTraceWithInitialElement(w,n,t,e),u();else if(s)a=o.computeStackTrace(s),i(a,!0);else{var l={url:n,line:t,column:r};l.func=o.computeStackTrace.guessFunctionName(l.url,l.line),l.context=o.computeStackTrace.gatherContext(l.url,l.line),a={mode:"onerror",message:e,stack:[l]},i(a,!0)}return!!f&&f.apply(this,arguments)}function l(){!0!==d&&(f=n.onerror,n.onerror=s,d=!0)}function u(){var e=w,n=p;p=null,w=null,m=null,i.apply(null,[e,!1].concat(n))}function c(e){if(w){if(m===e)return;u()}var t=o.computeStackTrace(e);throw w=t,m=e,p=a.call(arguments,1),n.setTimeout(function(){m===e&&u()},t.incomplete?2e3:0),e}var f,d,h=[],p=null,m=null,w=null;return c.subscribe=e,c.unsubscribe=t,c}(),o.computeStackTrace=function(){function e(e){if(!o.remoteFetching)return"";try{var t=function(){try{return new n.XMLHttpRequest}catch(e){return new n.ActiveXObject("Microsoft.XMLHTTP")}},r=t();return r.open("GET",e,!1),r.send(""),r.responseText}catch(e){return""}}function t(t){if("string"!=typeof t)return[];if(!r(j,t)){var i="",o="";try{o=n.document.domain}catch(e){}var s=/(.*)\:\/\/([^:\/]+)([:\d]*)\/{0,1}([\s\S]*)/.exec(t);s&&s[2]===o&&(i=e(t)),j[t]=i?i.split("\n"):[]}return j[t]}function s(e,n){var r,o=/function ([^(]*)\(([^)]*)\)/,s=/['"]?([0-9A-Za-z$_]+)['"]?\s*[:=]\s*(function|eval|new Function)/,a="",u=10,c=t(e);if(!c.length)return l;for(var f=0;f0?s:null}function u(e){return e.replace(/[\-\[\]{}()*+?.,\\\^$|#]/g,"\\$&")}function c(e){return u(e).replace("<","(?:<|<)").replace(">","(?:>|>)").replace("&","(?:&|&)").replace('"','(?:"|")').replace(/\s+/g,"\\s+")}function f(e,n){for(var r,i,o=0,s=n.length;or&&(i=s.exec(o[r]))?i.index:null}function h(e){if(!i(n&&n.document)){for(var t,r,o,s,a=[n.location.href],l=n.document.getElementsByTagName("script"),d=""+e,h=/^function(?:\s+([\w$]+))?\s*\(([\w\s,]*)\)\s*\{\s*(\S[\s\S]*\S)\s*\}\s*$/,p=/^function on([\w$]+)\s*\(event\)\s*\{\s*(\S[\s\S]*\S)\s*\}\s*$/,m=0;m]+)>|([^\)]+))\((.*)\))? in (.*):\s*$/i,o=n.split("\n"),l=[],u=0;u=0&&(g.line=v+x.substring(0,j).split("\n").length)}}}else if(o=d.exec(i[y])){var _=n.location.href.replace(/#.*$/,""),T=new RegExp(c(i[y+1])),E=f(T,[_]);g={url:_,func:"",args:[],line:E?E.line:o[1],column:null}}if(g){g.func||(g.func=s(g.url,g.line));var k=a(g.url,g.line),A=k?k[Math.floor(k.length/2)]:null;k&&A.replace(/^\s*/,"")===i[y+1].replace(/^\s*/,"")?g.context=k:g.context=[i[y+1]],h.push(g)}}return h.length?{mode:"multiline",name:e.name,message:i[0],stack:h}:null}function y(e,n,t,r){var i={url:n,line:t};if(i.url&&i.line){e.incomplete=!1,i.func||(i.func=s(i.url,i.line)),i.context||(i.context=a(i.url,i.line));var o=/ '([^']+)' /.exec(r);if(o&&(i.column=d(o[1],i.url,i.line)),e.stack.length>0&&e.stack[0].url===i.url){if(e.stack[0].line===i.line)return!1;if(!e.stack[0].line&&e.stack[0].func===i.func)return e.stack[0].line=i.line,e.stack[0].context=i.context,!1}return e.stack.unshift(i),e.partial=!0,!0}return e.incomplete=!0,!1}function g(e,n){for(var t,r,i,a=/function\s+([_$a-zA-Z\xA0-\uFFFF][_$a-zA-Z0-9\xA0-\uFFFF]*)?\s*\(/i,u=[],c={},f=!1,p=g.caller;p&&!f;p=p.caller)if(p!==v&&p!==o.report){if(r={url:null,func:l,args:[],line:null,column:null},p.name?r.func=p.name:(t=a.exec(p.toString()))&&(r.func=t[1]),"undefined"==typeof r.func)try{r.func=t.input.substring(0,t.input.indexOf("{"))}catch(e){}if(i=h(p)){r.url=i.url,r.line=i.line,r.func===l&&(r.func=s(r.url,r.line));var m=/ '([^']+)' /.exec(e.message||e.description);m&&(r.column=d(m[1],i.url,i.line))}c[""+p]?f=!0:c[""+p]=!0,u.push(r)}n&&u.splice(0,n);var w={mode:"callers",name:e.name,message:e.message,stack:u};return y(w,e.sourceURL||e.fileName,e.line||e.lineNumber,e.message||e.description),w}function v(e,n){var t=null;n=null==n?0:+n;try{if(t=m(e))return t}catch(e){if(x)throw e}try{if(t=p(e))return t}catch(e){if(x)throw e}try{if(t=w(e))return t}catch(e){if(x)throw e}try{if(t=g(e,n+1))return t}catch(e){if(x)throw e}return{mode:"failed"}}function b(e){e=1+(null==e?0:+e);try{throw new Error}catch(n){return v(n,e+1)}}var x=!1,j={};return v.augmentStackTraceWithInitialElement=y,v.guessFunctionName=s,v.gatherContext=a,v.ofCaller=b,v.getSource=t,v}(),o.extendToAsynchronousCallbacks=function(){var e=function(e){var t=n[e];n[e]=function(){var e=a.call(arguments),n=e[0];return"function"==typeof n&&(e[0]=o.wrap(n)),t.apply?t.apply(this,e):t(e[0],e[1])}};e("setTimeout"),e("setInterval")},o.remoteFetching||(o.remoteFetching=!0),o.collectWindowErrors||(o.collectWindowErrors=!0),(!o.linesOfContext||o.linesOfContext<1)&&(o.linesOfContext=11),void 0!==e&&e.exports&&n.module!==e?e.exports=o:"function"==typeof define&&define.amd?define("TraceKit",[],o):n.TraceKit=o}}("undefined"!=typeof window?window:global)},"./webpack-loaders/expose-loader/index.js?require!./shared/require-global.js":function(e,n,t){(function(n){e.exports=n.require=t("./shared/require-global.js")}).call(n,t("../../../lib/node_modules/webpack/buildin/global.js"))}});
समझ लीजिए आपने किसी जॉब साइट को तैयार किया है और यह साइट बहुत ही जानी मानी है | इस साइट पर दिन भर में हजारों युसर्स आकर आपके पोस्ट देखते हैं | यह पोस्ट देखते समय आप आपके साइट पर गूगल ऐडसेंस के ऐड डाल सकते हो जिन पर क्लिक करके आपको गूगल ऑटोमेटिक पैसा देता है | जब आपके वेबसाइट के विजिटर्स ज्यादा से ज्यादा क्लिक करते हैं वैसे वैसे गूगल आपको पैसे देता है | गूगल ऐडसेंस के द्वारा लाखों रुपए कमाना आसान नहीं होता है, कुछ महीनों तक आपको आपके साइट पर ज्यादा से ज्यादा काम करना होता है |
इंटरनेट पर बहुत सारे वेबसाइट हैं, जहां आप अपने बनाए हुए वीडियो को अपलोड कर घर बैठे पैसे कमाने के तरीके में बहुत मजेदार है. तथा वहा से एक अच्छी आमदनी अर्न कर सकते हैं. वीडियो बनाना पैसा कमाने का एक अच्छा साधन बन सकता है. जिस सब्जेक्ट पर आप वीडियो बनाना चाहते हैं, तो उसके लिए पहले आपको एक सब्जेक्ट को चुनाव करना पड़ेगा. उसी सब्जेक्ट एक के ऊपर रहते हुए हर एक वीडियो को फोकस करना होगा.

makaaniq is an initiative by makaan.com to provide information, intelligence and tools to help property seekers and real estate industry players take an informed property investment decision.makaan.com is part of elara technologies pte limited, singapore which also owns and operates proptiger.com, a digital real estate marketing and transactions services provider. news corp, a global media, book publishing and digital real estate services company, is the key investor in elara. elara's other major investors include saif partners, accel partners and RB Investments.
प्रकृति में सक्रिय होने के कारण श्यामा देवी ने महिला जागृति समूह की स्थापना और शुरुआत की। अपने गाँव के महिला समूह के बीच आर्थिक बाधाओं और स्वतंत्रता की कमी की समस्याओं को महसूस करने पर, श्यामा देवी ने दृढ़ता से अपना पक्ष रखा और महिला स्व-सहायता समूहों पर कृषि विज्ञान केंद्र और ब्लॉक अधिकारियों द्वारा संबोधित की जाने वाली महिलाओं के एक समूह में शामिल हो गईं। केवीके और अन्य संबंधित विभागों से जानकारी इकट्ठा करके, श्यामा ने इन समूहों के बारे में अपनी साथी महिला ग्रामीणों को शिक्षित करने के लिए अपनी यात्रा शुरू की।
×